News

NewsTechnology

स्मार्ट युग में अब कूड़ेदान भी हुआ स्मार्ट,हरिद्वार के छात्र का अदभुत अविष्कार

कूड़ेदान का अविष्कार
views
6574

हरिद्वार ब्यूरो। जब कुछ कर दिखाने का जज्बा हो तो कोई भी परेशानी अपका रास्ता नहीं रोक सकती। जी हां ऐसा ही कुछ देखने को मिला हरिद्वार की शिक्षा नगरी कहे जाने वाली रुड़की में जंहा एक छात्र ने अपनी उम्र से बढ़कर काम किया।

छात्र ने ऐसे एक कूड़ेदान का अविष्कार किया जो अपने आप में ​अदभुत हैं। यह कूड़ेदान भर जाने पर सफाईकर्मी को कॉल करता हैं। रुड़की के होनहार छात्र ने कर दिखाया है। छात्र ने एक ऐसा सॉफ्टवेयर बनाया है जिससे डस्टबिन कूड़ा भर जाने के बाद स्वयं सफाई कर्मी को कॉल कर देगा।

दरअसल केंद्रीय विज्ञान व प्रौद्योगिकी मंत्रालय के ‘राष्ट्रीय नवप्रवर्तन प्रतिष्ठान’ द्वारा आयोजित ऑनलाइन प्रतियोगिता में ग्रीनवे मॉडर्न स्कूल के कक्षा आठ के छात्र देवांश भारद्वाज के प्रोजेक्ट स्मार्ट डस्टबिन का चयन जिला स्तरीय प्रतियोगिता के लिए हुआ है।

उत्तराखंड माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष व नॉर्दन रेलवे सलाहकार समिति के सदस्य प्रदीप त्यागी के बेटे देवांश भारद्वाज ने सार्वजनिक स्थानों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व कार्यालयों के लिए उपयोगी एक “स्मार्ट इलेक्ट्रॉनिक डस्टबिन” तैयार किया है।

जो भरने के उपरांत विसिल एवं फोन कॉल के द्वारा संबंधित सफाई कर्मचारियों को स्वयं ही सूचित करेगा। उनके इस मॉडल का चयन जिला स्तरीय प्रतियोगिता हेतु किया गया है। जिसके तहत केंद्र सरकार द्वारा छात्र को दस हजार रुपये भी दिये गए हैं।

देवांश भारद्वाज ने इसके लिए अपनी प्रधानाचार्य और अपने पिता को श्रेय दिया है। उन्होंने बताया ऐसा करने की प्रेरणा उन्हें देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान से मिली है।

मार्केट को पसंद नहीं आया मोदी का ये बजट,गिरा शेयर बाजार,कांग्रेस ने किया हमला

FinanceNews

मार्केट को पसंद नहीं आया मोदी का ये बजट,गिरा शेयर बाजार,कांग्रेस ने किया हमला

images
views
6336

मोदी सरकार का यह बजट शेयर मार्केट को पसंद नहीं आया और बजट पेश होते होते बाजार में गिरावट देखी गयी। सेंसेक्स में जंहा 600 अंको की गिरावट देखी गयी तो वहीं निफ्टी में भी गिरावट देखी गयी। सरकार में निर्मला सितारमण ने शनिवार को अपने कार्यकाल का दूसरा बजट पेश किया। किसानों के लिए बजट में ‘किसान रेल योजना’ शुरू करने का प्रावधान किया गया है। इससे किसान जल्दी खराब होने वाली चीजों को सही समय पर मार्केट तक पहुंचा सकेंगे।वहीं, नगर विमानन मंत्रालय अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय मार्गों पर कृषि उड़ान की शुरुआत करेगा।

आम बजट पर इंदिरा का हमला

आम बजट पर उत्तराखंड में कांग्रेस ने सरकार पर निशाना साधने का काम किया। नेता प्रतिपक्ष इंंदिरा हृदयेश ने मोदी सरकार के इस बजट को किसानों को लॉलीपॉप देने वाला बताया। उन्होने इस बजट में आर्थिक मंदी और बेराजगारी और मंहगाई से निपटने के लिए कोई बड़ी योजना न होने की बात कह कर सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होने उत्तराखंड को मोदी लगाव का कोई फायदा न मिलने की बात भी कही।

उत्तराखंड के करीब दस लाख किसानों को होगा फायदा

-फैसले-15 लाख किसानों को ग्रिड कनेक्टेड पंपसेट से जोड़ा जाएगा।
-जल्दी खराब होने वाली वस्तुएं जैसे कि दूछ मांस मछली के लिए रेल चलाई जाएगी।
-कृषि विमान सेवा नागर विमानन मंत्रालय राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय रूटों पर शुरू करेगा।
-अगर बंजर जमीन है तो सोलर पावर जेनरेशन यूनिट लगा सकते हैं, उसे ग्रिड को बेच भी सकते हैं।
-11 करोड़ किसानों के लिए फसल बीमा योजना की शुरूआत होगी।
-पीएम कुसुम योजना के तहत 20 लाख किसानों को सोलर पंप दिए जाएंगे।
-खेती, मछली पालन पर जोर, कृषि को प्रतिस्पर्धात्मक बनाया जाएगा उनके लिए उन्नति लाई जाएगी।
-पानी की कमी से संबंधित कमी देश भर में गंभीर विषय 100 जिले इससे प्रभावित। इनके लिए जरूरी उपाय किए जाएंगे।

रेल, सड़क और हवाई यातायात सेवा को सुधारने के लिए बड़ी घोषणाएं

तेजस एक्सप्रेस जैसी निजी ट्रेनों को और नए रूटों पर चलाया जाएगा।

राजमार्गों के विकास में तेजी लाई जाएगी।

मानव रहित रेल फाटकों को समाप्त किया गया है।

550 स्टेशनों पर वाईफाई को शुरू किया गया है।

रेलवे की खाली जमीन पर सौर उर्जा उत्पादन की पहल की जाएगी।

27000 किमी के ट्रेक को इलेक्ट्रिक किया जाएगा।

स्वास्थ्य के लिए

आयुष्मान भारत योजना में अस्पतालों की संख्या को बढ़ाया जाएगा, ताकि T-2, T-3 शहरों में मदद पहुंचाई जाएगी

इसके लिए पीपीपी मॉडल की मदद ली जाएगी, जिसमें दो फेज़ में अस्पतालों को जोड़ा जाएगा

केंद्र सरकार की ओर से चलाए जा रहे इंद्रधनुष मिशन का विस्तार किया जाएगा

मेडिकल डिवाइस पर जो भी टैक्स मिलता है, उसका इस्तेमाल मेडिकल सुविधाओं को बढ़ावा देने के लिए किया जाएगा

NewsUncategorized

उत्तराखंड में खनन चुगान को लेकर कैबिनेट लिया बड़ा निर्णय, बहुत ख़ास रही इस बार की कैबिनेट

IMG-20200130-WA0005
views
6123

देहरादून उत्तराखंड कैबिनेट ने गुरुवार को कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर अपनी मुहर लगाई। सचिवालय में मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई इस बैठक कुल 16 प्रस्तावों पर मंत्रिमंडल में सहमति दी। कैबिनेट ने खनन चुगान की नीति में संशोधन करते हुए बड़ा फैसला लिया। अब खनन चुगान कि गहराई को 1.50 मीटर से बड़ा कर 3 मीटर कर दिया गया है।

 

इसकी जानकारी शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने सचिवालय स्थित मीडिया सेंटर में दी। कैबिनेट निर्णय के 16 बिन्दु निम्न हैः-

1. उत्तर प्रदेश परिवहन प्राविधिक सेवाओं में भर्ती के लिए अधिकतम आयु 35 से बढ़ाकर 42 साल की गई।
2. वैट के पुराने मामलों की सुनवाई के लिए समय 2020 जनवरी से बढ़ाकर मार्च 2020 किया गया।
3. पी.डब्लू.डी विभाग में वर्कचार्ज कर्मियों को पेंशन चार किश्तों में दी जानी थी, सर्वोच्च न्यायालय ने 03 माह में देने को कहा था, अब सरकार पुनर्विचार के लिए अवधि बढ़ाने के लिए मा0 सर्वोच्च न्यायालय में जाने की अनुमति प्रदान की गई।
4. केदारनाथ पुननिर्माण के कार्यो के लिए कंसलटेंट को भुगतान की कंसलटेंसी फीस अब 2 प्रतिशत होगी, पहले 3.2 प्रतिशत थी।
5. जयहरीखाल में आवासीय विद्यालय खोला जाएगा। यह विद्यालय ट्रस्ट के माध्यम से संचालित होगा। इसके अध्यक्ष मुख्यमंत्री होंगे और उपाध्यक्ष शिक्षा मंत्री होंगे। 60 प्रतिशत का योगदान हंस फाउंडेशन के माध्यम से होगा।
6. ऋषिकेश आई.डी.पी.एल. स्थित 830 एकड़ भूमि की लीज मार्च में खत्म, केंद्र इस जमीन को राज्य को वापस करेगा। 200 एकड़ जमीन ऋषिकेश एम्स को मिलेगी बाकी पर्यटन के पास रहेगी। समस्त भूमि सर्वप्रथम वन विभाग के अधीन की जाएगी। इसके बाद पर्यटन विभाग को दी जायेगी।
7. उत्तराखण्ड उपखनिज नियमावली 2001 मंे संशोधन करते हुए नदी चुगान क्षेत्र में चुगान की गहराई 1.5 मीटर से बढ़ाकर 3 मीटर अथवा ग्रांउण्ड लेवल तक करने की अनुमति दी गई।
8. अल्मोड़ा नैनीसार में आवासीय निजी स्कूल को दी गई। 4 करोड़ लागत की 7.06 हेक्टेयर की भूमि के प्रस्ताव पर पुर्नविचार किया जाएगा। यह देखा जाएगा कि पांच वर्ष में उस भूमि का कितना उपयोग हुआ है।
9. राज्य सरकार जनपद अथवा अन्य कोई भी निकाय क्षेत्र में किसी भी स्लाॅटर हाउस, पशु वधशाला को बंद करने के अधिकार है, प्राप्त करने के लिए अध्यादेश लायेगी। इससे अब सरकार किसी भी क्षेत्र को प्रतिबंधित कर सकेगी।
10. कुम्भ मेला 2021 के लिए 31 पदों की स्वीकृति उप मेलाधिकारी-1, सूचना अधिकारी-1, सहायक लेखाकार-1, वरिष्ठ सहायक- 1, कनिष्ठ सहायक- 2, डाटा एन्ट्री आॅपरेटर- 4, चपरासी- 2, चैकीदार- 1, मेट-1, बेलदार-10, राजस्व निरीक्षक- 2, उप राजस्व निरीक्षक- 5
11. वेलनेस समिट के लिए भारतीय उद्योग संघ पार्टनर के रूप में काम करेगा। अप्रैल 2020 में आयोजन होगा।
12. खनिज नियमावली के अवैध भंडारण के मामलों में सुनवाई के अधिकार एडीएम अथवा राज्य सरकार द्वारा अधिकृत अधिकारी को प्रदान किया जाएगा।
13. सेवा का अधिकार का वर्ष 2017-18 एवं वर्ष 2018-19 वार्षिक प्रतिवेदन विधानसभा में प्रस्तुत किया जाएगा।
14. एनएच चैड़ीकरण में सड़क किनारे भूमि कब्जेदारी को मुआवजा दिया जाएगा।
15. उत्तर प्रदेश जमीदारी भूमि व्यवस्था के धारा 143 मास्टर प्लान के अनुसार सीधे प्राधिकरण में लैंड यूज चेंज के लिए दिया जाएगा। यह कृषि भूमि होनी चाहिए।
16. उत्तराखण्ड श्रम सेवा नियमावली 2020 का प्रख्यापन किया गया।

News

कानूनगो को पॉंच हजार की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार,इस काम के मांगे थे पैसे

views
5705

देहरादून ब्यूरो। देहरादून विजिलेंस ने कागजों में नाम सुधार के नाम पर रिश्वत लेने वाले एक कानूनगो को रंगे हाथों पकड़ा। दरअसल कानूनगो ने जमीन के कागजों में नाम सुधार के एवज में पैसे की मांग की थी। फिलहाल विजिलेंस पकड़े गये कानूनगो के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर रही हैं।

शिकायतकर्ता एक शिकायती पत्र पुलिस अधीक्षक सतर्कता देहरादून कार्यालय में इस बाबत दिया कि वह सेना के सेवानिवृत्त कर्मचारी है जिसके द्वारा बालावाला में गिरिश चंद्र मलासी से 0.073 एकर का भूखंड खरीदा था। जिसका दाखिल खारिज भी उनके नाम पर हो चुका था।

परंतु त्रुटिवश उनके भूखंड का रकबा 0.0295 के स्थान पर 0.028 तथा उनके पिताजी के नाम थान सिंह रावत के स्थान पर धान सिंह रावत हो गया है। जिस बाबत राजस्व अभिलेखों में सुधार हेतु शिकायतकर्ता द्वारा एक प्रार्थना पत्र राजस्व कार्यालय देहरादून में दिया गया। जिसके क्रम में राजस्व के सर्वे कानूनगो किशन सिंह नेगी द्वारा नियमपूर्वक कारवाही न करते हुए शिकायतकर्ता से 5000/(पाँच हजार रुपये ) की मांग की गई।

शिकायत के बाद विजिलेंस ने विजिलेंस देहरादून सेक्टर रेनू लोहानी के निर्देशन में विजिलेंस टीम ने प्लानिंग कर कानूनगो को रंगे हाथ गिरफ्तार किया।

 

जरूर पढ़े

 

तो पति-पत्नि ने इस कारण बहुचर्चित गौरव हत्याकांड दिया था अंजाम

News

योगी का बदमाशों में कैसा खौफ दिनदहाड़े फूड़ प्लाजा में कर दी फायरिंग,एक की मौत

shots (2)
views
5765

गाजियाबाद ब्यूरो। योगी का उत्तर प्रदेश में बदमाशों में कितना खौफ है इसकी एक बानगी उस समय देखने को मिली जब मोदी नगर हाईवे पर एक फूड़ प्लाजा में दिन दहाड़े फायरिंग कर दी। इस ताबड़तोड़ फायरिंग में दो लोग घायल हो गये जबकि एक युवक की मौत हो गयी। घटना के बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गयी हैं।

गाजियाबाद एसएसपी कलानिधि नैथानी के लाख प्रयासों के बावजूद भी क्राइम रुकने का नाम नहीं ले रहा। जहां एक तरफ एसएसपी नए-नए प्रयोग कर बदमाशों की नाक में नकेल डालने का कार्य कर रहे हैं। वहीं बदमाश दिन प्रतिदिन घटनाओं को अंजाम देकर फरार हो जाए करते हैं। और पुलिस का खौफ बदमाशों से अब गायब होता दिखाई दे रहा है।

ताजा मामला मोदीनगर नेशनल हाईवे का है। जहां पर सीकरी खुर्द के रहने वाले दो युवक फूड प्लाजा में खाना खा रहे थे। इसी बीच 5 लोगों ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। जिससे दोनों युवकों की हालत गंभीर हो गई। आनन-फानन में मौके पर स्थानीय लोगों व पुलिस द्वारा सूचना के बाद दोनों घायल युवकों को गाजियाबाद के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। जहां एक की हालत गंभीर बनी हुई है।

पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पूरे मामले की जांच पड़ताल में जुटी है। हालांकि एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी की बात भी पुलिस कर रही है। पुलिस की अगर बात की जाए तो पुलिस का मानना है कि आपसी रंजिश के कारण इस तरह की वारदात को अंजाम दिया गया है। पकड़े गए आरोपी से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

NewsUncategorized

उत्तराखण्ड में वाटर मैनेजमेंट प्रोजेक्ट के 1203 करोड़ रूपए में बनेगें बैराज और झील

aqa
views
6127

देहरादून ब्यूरो। नीति आयोग द्वारा ‘‘जलसुरक्षा के लिए हिमालय के जलस्त्रोतों के पुनर्जीवन’’ पर प्रकाशित रिपोर्ट को ध्यान में रखते हुए यह प्रोजेक्ट तैयार किया जा गया है। प्रोजेक्ट की प्री-फिजीबिलीटी रिपोर्ट तैयार कर ली गई है। इसके तहत प्रस्तावित बांध, नहरों व तालाबों के निर्माण की डीपीआर बनाई जा रही है। इसकी अनुमानित लागत 1203 करोड़ रूपए है।

प्रस्तावित ‘उत्तराखण्ड वाटर मैनेजमेंट प्रोजेक्ट’’ के तहत जलस्त्रोतों के पुनर्जीवन, जलाशयों से गाद निकालने, तालाबों के निर्माण और नहरों के पुनरूद्धार पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड वाटर मैनेजमेंट प्रोजेक्ट पर गम्भीरता और समयबद्धता से काम करने के निर्देश देते हुए कहा कि इससे प्रदेश को प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष आर्थिक लाभ मिलने के साथ ही सकारात्मक सामाजिक प्रभाव भी होंगे। पर्यावरण और वन्य जीवन के संरक्षण में भी यह प्रोजेक्ट सहायक रहेगा।

जलस्त्रोतों की मैपिंग और स्प्रिंग शैड मैनेजमेंट
जलस्त्रोतों के पुनर्जीवन के तहत जलस्त्रोतों की मैपिंग और स्प्रिंग शैड मैनेजमेंट किया जाएगा। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाईड्रोलॉजी रूड़की द्वारा लघु चैक डैम बनाने, ट्रेंचेज को रिचार्ज करने और कैचमेंट एरिया में पौधारोपण का सुझाव दिया गया है। स्त्रोतों के पुनर्जीवन पर लगभग 90 करोड़ रूपए की लागत आएगी।
ग्रेविटी आधारित सिंचाई स्किमों का पुनरूद्धार
मौजूदा नहरों के पुनरूद्धार के तहत 382 लघु सिंचाई की नहरों/गूलों की मरम्मत के लिए 95 योजनाओं का काम लिया गया है। इन 95 ग्रेविटी स्किमों के पुनरूद्धार व नवीनीकरण पर 324 करोड़ रूपए की लागत अनुमानित है।
जलाशयों की डिसिल्टिंग
जलाशयों के डिसिल्टिंग के तहत हरिपुरा और बौर जलाशयों की डिसिल्टिंग कर इनकी सिंचन क्षमता में सुधार लाया जाएगा। इस पर 176 करोड़ रूपए की लागत अनुमानित है।

बैराज और झीलों का निर्माण
प्रोजेक्ट में कुल 10 बांध और झीलों का निर्माण प्रस्तावित किया गया है। इनमें पूर्वी नयार नदी पर खैरासैण झील, सतपुली के निकट झील, पश्चिमी नयार नदी पर पापडतोली, पैठाणी, स्यूंसी व मरखोला झील, साकमुंडा नदी पर झील, थल नदी पर झील, खो नदी पर दुगड्डा में बैराज और रामगंगा नदी पर गैरसैण झील शामिल हैं। इन 10 झीलों और बैराज के निर्माण पर 613 करोड़ रूपए की लागत अनुमानित है।

NewsUncategorized

बढ़ती चोरी की घटनाओं को लेकर हरिद्वार एसएसपी नाराज,थाना प्रभारी पर गिरी गाज

views
6285

हरिद्वार ब्यूरो। हरिद्वार के कनखल थाना क्षेत्र में चोरी की बढ़ती वारदात को लेकर हरिद्वार एसएसपी ने कार्यवाही करते हुए कनखल एसओ को लाइन हाजिर कर दिया हैं। दरअसल क्षेत्र में अमेजॉन कंपनी के ऑफिस में लाखों की चोरी से सनसनी फैल गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे पुलिस के आलाधिकारियों ने मौके का मुआयना किया।

क्षेत्र में बढ़ती चोरी की वारदातों से नाराज़ एसएसपी सेंथिल अबुदई ने कनखल थाना प्रभारी हरिओम राज चौहान को लाइन हाजिर कर दिया। हरिद्वार में चोरों के हौसले इस कदर बुलंद हैं की चोरों ने लक्सर रोड पर बने अमेजॉन कंपनी के ऑफिस के ताले तोड़कर लगभग तेहरा लाख कैश और कुछ मोबाइल फोन पर हाथ साफ कर दिया। चोरों की ये करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद ना हो इसलिए चोर सीसीटीवी का डीवीआर भी अपने साथ लेकर उड़े।

इतना ही नहीं चोरों ने आसपास की बिल्डिंगों में लगे सीसीटीवी कैमरे के तार भी काट डाले। सूचना पाकर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल की। कंपनी के कर्मचारियों के मुताबिक लगभग तेहरा लाख रुपए और कुछ सामान चोरी हुआ है।

सोमवार सुबह जब ऑफिस खोला गया तब घटना के बारे में पता चला। क्षेत्र में बढ़ती चोरी की घटनाओं से नाराज़ हरिद्वार के एसएसपी ने कनखल थाना प्रभारी हरिओम राज चौहान पर कार्रवाई करते हुए लाइन हाजिर कर दिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

News

तो पति-पत्नि ने इस कारण बहुचर्चित गौरव हत्याकांड दिया था अंजाम

aaaaa (2)
views
6211

हापुड़ ब्यूरो। हापुड़ पुलिस ने नोएडा में हुए बहुचर्चित गौरव चंदेल हत्याकांड का खुलासा करते हुए एक आरोपी उमेश और कुख्यात बदमाश आशु की पत्नी को गिरफ्तार किया है हापुड़ पुलिस ने आरोपी उमेश के पास से एक पिस्टल और कुछ अन्य सामान बरामद किया है
पुलिस के अनुसार जब पुलिस पकड़े गए आरोपी उमेश से पूछताछ कर रही थी तभी पकड़ा गया आरोपी उमेश एक दरोगा की पिस्टल लूटकर पुलिस पर फायरिंग कर भागने लगा और जब पुलिस ने आरोपी का पीछा करते हुए जबाबी फायरिंग की तो पुलिस मुठभेड़ के दौरान आरोपी उमेश के दोनों पेरो में पुलिस की गोली जा लगी

जिसमे उमेश नाम का आरोपी घायल हो गया पुलिस ने घायल उमेश को इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वही गौरव चंदेल हत्याकांड में पुलिस को अभी तक यही पता चल पाया है कि गौरव चंदेल की हत्या कार लूट को लेकर की गई थी
दरअसल पुलिस द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार नोएडा में करीब 20 दिन पूर्व गौरव चंदेल नाम के व्यक्ति की हत्या कर दी जाती है और गौरव चंदेल हत्याकांड में मिर्ची गैंग का नाम सामने आता है

जिसका सरगना एक लाख का इनामी आशु जाट है वही आशु जाट का नाम सामने आ जाने के बाद नोएडा और यूपी पुलिस आशु जाट की तलाश में जुट जाती है और जगह जगह दबिश देने लग जाती है लेकिन 20 दिन तक भी यूपी पुलिस के हाथ कुछ नही लग पाया था ढिम बीतते जा रहे थे

पुलिस की सिरदर्दी बढ़ती जा रही थी क्योंकि इससे पहले की एक लाख के इनामी बदमाश आशु हापुड़ में दो बीजेपी नेताओं को मौत की नींद सुला चुका था और जानकारी के अनुसार एक लाख के इनामी बदमाश कज ससुराल धौलाना में ही है जिसको लेकर आशु के धौलाना में आना जाना लगा रहता है

वही 26 जनवरी यानी रविवार को हापुड़ पुलिस और नोएडा एसटीएफ को मुखबीर की सूचना मिलती है कि आशु जाट का एक साथी थाना धौलाना क्षेत्र में है और वो एक महिला जोकि आशु जाट की पत्नी बताई जा रही है उसके साथ किसी वारदात को अंजाम देने के लिए जा रहा है

पुलिस और नोएडा एसटीएफ ने मुखबीर की सूचना के आधार पर धौलाना क्षेत्र में नाकेबंदी शुरू कर दी और जब आशु जाट का साथी उमेश महिला के साथ जाता दिखाई दिया तो पुलिस ने उमेश को उस महिला के साथ गिरफ्तार कर लिया और थाना धौलाना ले आई और पकड़े गए आरोपी से पूछताछ में जुट गई वही पुलिस को आरोपी उमेश के पास से एक पिस्टल और कुछ जरूरी सामान बरामद हुआ ।

पुलिस के अनुसार जब पुलिस ने आरोपी उमेश से पूछताछ की तो उमेश ने बताया कि उसने और आशु जाट ने मिलकर गौरव चंदेल की हत्या की थी जिसके बाद वह गौरव चंदेल की कार और अन्य सामान लूटकर फरार हो गए थे!

NewsUncategorized

रुद्रपुर के कांग्रेसी पार्षद को इस बड़ी वजह के लिए किया गया था किड़नैप

views
6317

रुद्रपुर ब्यूरो। उत्तराखंड के रुद्रपुर से किडनैप किए गए कांग्रेसी पार्षद अमित मिश्रा मामले में गाजियाबाद पुलिस और उत्तराखंड पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन में 3 अपहरणकर्ता को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने इनके कब्जे से किडनैपिंग में इस्तेमाल हुई कार और बंदूक भी बरामद की है।

यह तस्वीर है कांग्रेसी पार्षद अमित मिश्रा की अस्पताल में बैठे हुए हैं। ये गाजियाबाद का सरकारी अस्पताल है और यह तस्वीर 18 जनवरी की है । जब अमित मिश्रा के किडनैपर उनको गाजियाबाद के राज नगर एक्सटेंशन इलाके में छोड़कर फरार हो गए थे ।

दरअसल उत्तराखंड के रुद्रपुर कांग्रेससे पार्षद अमित मिश्रा 17 जनवरी को किडनैप कर लिया गया था। अपहरणकर्ताओं ने परिजनों को फोन करके 40 लाख की फिरौती मांगी थी । परिजनों ने इसकी सूचना उत्तराखंड पुलिस को दी। उत्तराखंड पुलिस ने जांच की तो पता चला किडनैपर है ईस्टर्न पेरिफेरल वे पर है। उत्तराखंड पुलिस ने गाजियाबाद पुलिस से मदद मांगी।

गाजियाबाद पुलिस ने अपहरणकर्ताओं पर ऐसा शिकंजा कसा की किडनैपर को अमित मिश्रा को मजबूरी में राजनगर एक्सटेंशन छोड़कर फरार हो गए । अब पुलिस ने इसमें शामिल 3 बदमाश अबरार रिंकू और गौतम को हिरासत में ले लिया है।

हालांकि दो बदमाश हरेंद्र और संदीप अभी फरार है। यह सभी लोग दिल्ली और बागपत इलाके के रहने वाले हैं। पुलिस अभी फरार बाकी बदमाशों की तलाश कर रही है। हिरासत में लिए गए इन बदमाशो के कब्जे से अपहरण में इस्तेमाल हुई कार और एक डबल बैरल बंदूक बरामद की गई है।

NewsUncategorized

योगी के यूपी का क्राइम फ्री स्टेट की बानगी,चोर मस्त—पुलिस पस्त

views
6083

हरदोई ब्यूरो। योगी के यूपी में क्राइम पर किस तरह से लगाम लगी है इसकी एक बानगी हरदोई में उस समय दखेने को मिली जब बाइक शोरुम का ताला तोड़कर चोरों में लाखों की चपत लगा दी। ये पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गयी। हालांकि पुलिस घटना के बाद जल्द ही चोरों को गिरफ्तार करने का दावा कर रही हैं।

हरदोई में पुलिस भले ही कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने का दावा करे लेकिन उसके यह दावे हवा हवाई ही साबित हो रहे हैं चोरों ने बाइक शोरूम का ताला तोड़कर लाखों की नगदी पर हाथ साफ कर दिया हालांकि इस दौरान शोरूम के अंदर चोरी के लिए दाखिल हुए एक चोर की तस्वीरें सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

अब सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई तस्वीरों के सहारे पुलिस चोरों तक पहुंचने के प्रयास में जुटी हुई है हालांकि पुलिस का दावा है कि जल्द ही चोरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा और चोरी की इस घटना का खुलासा किया जाएगा

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में चोरी की यह वारदात कस्बा पिहानी की है जहां बिलाल मोटर्स का ताला तोड़कर चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया है दरअसल शटर के ताले तोड़कर एक चोर शोरूम के अंदर दाखिल हुआ तस्वीरों में आप साफ़ देख सकते हैं कि किस तरह से एक चोर अंदर दाखिल होता है जो हाथ में टॉर्च पकड़े हुए है

और फिर मेज की रैक और अलमारियां खोल रहा है शोरूम मालिक के मुताबिक चोर एक लाख 30 हजार नगद और एक चेक बुक अपने साथ ले गए हैं ऐसे में चोरी की घटना के सामने आने के बाद शोरूम मालिक की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ चोरी का मामला दर्ज कर लिया है और सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई चोरी की वारदात को लेकर तस्वीरों के सहारे पुलिस चोरों का पता लगाने में जुटी है पुलिस का दावा है कि जल्द ही चोरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा और इस मामले का पटाक्षेप किया जाएगा।

NewsUncategorized

गणतंत्र दिवस पर उत्तराखंड के इन पुलिसकर्मीयों को मिलेगा विशेष पुरुस्कार,देखें पूरी लिस्ट

views
6184

देहरादून ब्यूरो। गणतंत्र दिवस पर उत्तराखंड के 58 पुलिस कर्मीयों को सम्मानित किया जायेगा। जिसमें आठ पुलिसकर्मीयों को राज्यपाल उत्कृष्ठ सेवा पु​रुस्कार और उत्कृष्ठ सराहनीय सेवा सम्मान से नवाजा जायेगा।
इन्हें राज्यपाल बेबी रानी मौर्य सम्मान चिन्ह प्रदान करेंगी। बाकी पुलिसकर्मियों को पुलिस महानिदेशक अनिल कुमार रतूडी द्वारा सम्मानित किया जाएगा। पुलिस मुख्यालय ने बुधवार शाम सम्मानित होने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के नामों की घोषणा कर दी।

उत्कृष्ट और सराहनीय सेवा सम्मान चिन्ह पाने वाले पुलिसकर्मियाें को गणतंत्र दिवस पर पुलिस महानिदेशक अनिल कुमार रतूडी सम्मानित करेंगे। अराजपत्रित अधिकारी और कर्मचारी को सम्मान चिन्ह के साथ 5000 और 2000 रुपये का नकद पुरस्कार किया जाएगा।

इन्हें मिलेगा राज्यपाल उत्कृष्ट सेवा पदक
1- प्रकाश चंद्र देवली, पुलिस उपाधीक्षक, पीटीसी नरेंद्रनगर (संबद्ध कुंभ मेला)
2- विक्रम सिंह नेगी, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी हरिद्वार।
3- हरि सिंह, हेड कांस्टेबल, आईआरबी द्वितीय।
4- कंवर पाल, आरक्षी सतर्कता मुख्यालय देहरादून।
5- रविंद्र शाह, उपनिरीक्षक हरिद्वार।
6- अर्जुन कुमार, उपनिरीक्षक हरिद्वार।
7- अमित कुमार, आरक्षी, हरिद्वार।
8- प्रभाकर, आरक्षी, हरिद्वार।

सेवा के आधार पर उत्कृष्ट सेवा सम्मान चिन्ह
1- बिजेंद्र दत्त डोभाल, पुलिस उपाधीक्षक, हरिद्वार।
2- राकेश चंद्र देवली, पुलिस उपाधीक्षक यातायात, देहरादून।
3- दिग्विजय सिंह परिहार, पुलिस उपाधीक्षक, संचार मुख्यालय, देहरादून।
4- देवेंद्र सिंह नेगी, उप निरीक्षक, ऊधमसिंह नगर।
5- सेनपाल सिंह, प्लाटून कमांडर, 46वीं वाहिनी पीएसी।
6- पूरन चंद्र जोशी, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी, बागेश्वर।

विशिष्ट कार्य को उत्कृष्ट सेवा सम्मान चिन्ह
1- विद्या दत्त जोशी, उपनिरीक्षक, ऊधमसिंह नगर।
2- धर्मेंद्र सिंह रौतेला, थाना प्रभारी प्रेमनगर, देहरादून।

सेवा के आधार पर सराहनीय सेवा सम्मान चिन्ह
1 गणेश लाल, पुलिस उपाधीक्षक, रुद्रप्रयाग।
2 राम सिंह रावत, दलनायक, 40वीं वाहिनी पीएसी।
3 अशोक कुमार सिंह, प्रतिसार निरीक्षक, अल्मोड़ा।
4 महेश पाल सिंह, निरीक्षक, एसटीएफ ।
5 कुंदन सिंह राणा, निरीक्षक एटीसी हरिद्वार।
6 राममूर्ति सिंह रावत, उप निरीक्षक अभिसूचना, मुख्यमंत्री सुरक्षा, देहरादून।
7 पीताम्बर भट्ट, उप निरीक्षक, चम्पावत।
8 रमेश चंद्र तिवारी, उप निरीक्षक, ऊधमसिंह नगर।
9 रमेश चंद्र देवरानी, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी, ऊधमसिंह नगर।
10 रूपलाल, हेड कांस्टेबल, सीबीसीआईडी, देहरादून।
11 कुंदन सिंह, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी, हरिद्वार।
12 गोवर्धन प्रसाद, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी, पौड़ी गढ़वाल।
13 जेई राम, हेड कांस्टेबल विशेष श्रेणी, चालक 46वीं वाहिनी पीएसी।
14 रमेश चंद्र, हेड कांस्टेबल आईआरबी प्रथम रामनगर।
15 भवान सिंह, हेड कांस्टेबल, 31वीं वाहिनी पीएसी रुद्रपुर।
16 पूरन राम, नायक, 31वीं वाहिनी पीएसी रुद्रपुर।

विशिष्ट कार्य को सराहनीय सेवा सम्मान चिन्ह
1.दिलवर सिंह नेगी, एसओ नेहरू कालोनी, देहरादून।
2- संजय मिश्रा, कैंट कोतवाली प्रभारी देहरादून।
3- ललित कुमार, आरक्षी, देहरादून।
4- दीप प्रकाश, आरक्षी देहरादून।
5- राजेश सिंह कुंवर, आरक्षी, देहरादून।
6- देवेंद्र सिंह, आरक्षी देहरादून।
7- दिनेश सिंह, आरक्षी, देहरादून।
8- अशोक राठौर, एसओ राजपुर, देहरादून।
9- अरशद, आरक्षी, देहरादून।
10- पंकज, आरक्षी, देहरादून।
11- केदार सिंह चौहान, उप निरीक्षक, उत्तरकाशी।
12- ऋ तुराज, उप निरीक्षक उत्तरकाशी।
13- चंदन सिंह, आरक्षी, उत्तरकाशी।
14- उत्तम सिंह, आरक्षी, उत्तरकाशी।
15- रमेश राणा, आरक्षी, उत्तरकाशी।
16- अमर चंद्र शर्मा, निरीक्षक, एसटीएफ ।
17- सुनील कुमार, हेड कांस्टेबल एसटीएफ ।
18- मनोज कुुमार, आरक्षी, एसटीएफ ।
19- सुरेंद्र कुमार, आरक्षी चालक, एसटीएफ ।
20- मनोज रावत, उप निरीक्षक एसडीआरएफ ।
21- सुशील कुमार, आरक्षी, एसडीआरएफ ।
22- सुरेश मलासी, आरक्षी, एसडीआरएफ ।
23- कुंदन तोमर, आरक्षीए एसडीआरएफ ।
24- राजेंद्र नाथ, आरक्षी, एसडीआरएफ
25- गोपाल दत्त जोशी, निरीक्षक अभिसूचना मुख्यालय।
26- जीवन सिंह रावत, उप निरीक्षक, सीसीटीएनएस पुलिस मुख्यालय।

English EN Hindi HI