Uncategorized

NewsUncategorized

उत्तराखंड का विपक्ष सीएम दरबार में-मुख्यमंत्री से इन मुददों पर कार्यवाही की मांग को लेकर की मुलाकात

views
6025

कई माह से ई रिक्शा चालाक अपनी मांगों को लेकर हड़ताल में बैठे है ऐसे में अब कांग्रेस भी ई चालाक की हडताल का समर्थन कर रहे है। इसी संबंध में आज कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने सीएम आवास पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात की।

प्रीतम सिंह ने मुख्यमंत्री से देहरादून में चल रही ई रिक्शा वालों की हड़ताल पर हस्तक्षेप करने की मांग करते हुए कहा कि पिछले छह माह से देहरादून पुलिस प्रशासन ने ई रिक्शा का संचालन शहर के सभी मुख्य मार्गों में प्रतिबंधित किया हुआ है जिसके कारण ई रिक्शा चालकों के घरों में भुखमरी की नोबत आयी हुई है और ई रिक्शा के लिए जिन लोगों ने ऋण लिया हुआ है उनकी किश्तों की अदायगी न होने के कारण उनकी वसूली के नोटिस आने लगे हैं जिसके कारण कल परेशान हो कर ई रिक्शा वाले ने अपने रिक्शा में आग लगा दी।

साथ ही मुख्यमंत्री को प्रतिनिधिमंडल ने आंगनवाड़ी कार्यकात्रियों के आंदोलन का समाधान निकालने की मांग की। वही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया कि ई रिक्शा के बारे में वो भी चिंतित हैं और इस विषय का समाधान जल्द करेंगे। आंगनवाड़ी , अल्पसंख्यक वर्ग व शिशमबाड़ा के बारे में भी यथा संभव करने का आश्वासन मुख्यमंत्री ने दिया।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं के प्रतिनिधिमंडल प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से सीएम आवास में मिला। प्रीतम सिंह ने मुख्यमंत्री से देहरादून में चल रही ई रिक्शा वालों की हड़ताल पर हस्तक्षेप करने की मांग करते हुए कहा कि पिछले छह माह से देहरादून पुलिस प्रशासन ने ई रिक्शा का संचालन शहर के सभी मुख्य मार्गों में प्रतिबंधित किया हुआ है जिसके कारण ई रिक्शा चालकों के घरों में भुखमरी की नोबत आयी हुई है।

प्रीतम सिंह ने सीएम से कहा कि सरकार को आंगनबाड़ी के मामले में उनकी जायज मांगों को मान कर आंदोलन समाप्त करना चाहिए। प्रीतम सिंह ने मुख्यमंत्री से पिछले आठ दिनों से परेड ग्राउंड में संविधान बचाओ के कार्यकर्ताओं से बातचीत कर उन्हें राज्य सरकार की ओर से आश्वस्त करने की मांग की । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को राज्य के अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को आश्वस्त करना चाहिए कि वे और उनके हित उत्तराखंड में सुरक्षित हैं।

NewsUncategorized

उत्तराखंड में खनन चुगान को लेकर कैबिनेट लिया बड़ा निर्णय, बहुत ख़ास रही इस बार की कैबिनेट

IMG-20200130-WA0005
views
6123

देहरादून उत्तराखंड कैबिनेट ने गुरुवार को कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर अपनी मुहर लगाई। सचिवालय में मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई इस बैठक कुल 16 प्रस्तावों पर मंत्रिमंडल में सहमति दी। कैबिनेट ने खनन चुगान की नीति में संशोधन करते हुए बड़ा फैसला लिया। अब खनन चुगान कि गहराई को 1.50 मीटर से बड़ा कर 3 मीटर कर दिया गया है।

 

इसकी जानकारी शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने सचिवालय स्थित मीडिया सेंटर में दी। कैबिनेट निर्णय के 16 बिन्दु निम्न हैः-

1. उत्तर प्रदेश परिवहन प्राविधिक सेवाओं में भर्ती के लिए अधिकतम आयु 35 से बढ़ाकर 42 साल की गई।
2. वैट के पुराने मामलों की सुनवाई के लिए समय 2020 जनवरी से बढ़ाकर मार्च 2020 किया गया।
3. पी.डब्लू.डी विभाग में वर्कचार्ज कर्मियों को पेंशन चार किश्तों में दी जानी थी, सर्वोच्च न्यायालय ने 03 माह में देने को कहा था, अब सरकार पुनर्विचार के लिए अवधि बढ़ाने के लिए मा0 सर्वोच्च न्यायालय में जाने की अनुमति प्रदान की गई।
4. केदारनाथ पुननिर्माण के कार्यो के लिए कंसलटेंट को भुगतान की कंसलटेंसी फीस अब 2 प्रतिशत होगी, पहले 3.2 प्रतिशत थी।
5. जयहरीखाल में आवासीय विद्यालय खोला जाएगा। यह विद्यालय ट्रस्ट के माध्यम से संचालित होगा। इसके अध्यक्ष मुख्यमंत्री होंगे और उपाध्यक्ष शिक्षा मंत्री होंगे। 60 प्रतिशत का योगदान हंस फाउंडेशन के माध्यम से होगा।
6. ऋषिकेश आई.डी.पी.एल. स्थित 830 एकड़ भूमि की लीज मार्च में खत्म, केंद्र इस जमीन को राज्य को वापस करेगा। 200 एकड़ जमीन ऋषिकेश एम्स को मिलेगी बाकी पर्यटन के पास रहेगी। समस्त भूमि सर्वप्रथम वन विभाग के अधीन की जाएगी। इसके बाद पर्यटन विभाग को दी जायेगी।
7. उत्तराखण्ड उपखनिज नियमावली 2001 मंे संशोधन करते हुए नदी चुगान क्षेत्र में चुगान की गहराई 1.5 मीटर से बढ़ाकर 3 मीटर अथवा ग्रांउण्ड लेवल तक करने की अनुमति दी गई।
8. अल्मोड़ा नैनीसार में आवासीय निजी स्कूल को दी गई। 4 करोड़ लागत की 7.06 हेक्टेयर की भूमि के प्रस्ताव पर पुर्नविचार किया जाएगा। यह देखा जाएगा कि पांच वर्ष में उस भूमि का कितना उपयोग हुआ है।
9. राज्य सरकार जनपद अथवा अन्य कोई भी निकाय क्षेत्र में किसी भी स्लाॅटर हाउस, पशु वधशाला को बंद करने के अधिकार है, प्राप्त करने के लिए अध्यादेश लायेगी। इससे अब सरकार किसी भी क्षेत्र को प्रतिबंधित कर सकेगी।
10. कुम्भ मेला 2021 के लिए 31 पदों की स्वीकृति उप मेलाधिकारी-1, सूचना अधिकारी-1, सहायक लेखाकार-1, वरिष्ठ सहायक- 1, कनिष्ठ सहायक- 2, डाटा एन्ट्री आॅपरेटर- 4, चपरासी- 2, चैकीदार- 1, मेट-1, बेलदार-10, राजस्व निरीक्षक- 2, उप राजस्व निरीक्षक- 5
11. वेलनेस समिट के लिए भारतीय उद्योग संघ पार्टनर के रूप में काम करेगा। अप्रैल 2020 में आयोजन होगा।
12. खनिज नियमावली के अवैध भंडारण के मामलों में सुनवाई के अधिकार एडीएम अथवा राज्य सरकार द्वारा अधिकृत अधिकारी को प्रदान किया जाएगा।
13. सेवा का अधिकार का वर्ष 2017-18 एवं वर्ष 2018-19 वार्षिक प्रतिवेदन विधानसभा में प्रस्तुत किया जाएगा।
14. एनएच चैड़ीकरण में सड़क किनारे भूमि कब्जेदारी को मुआवजा दिया जाएगा।
15. उत्तर प्रदेश जमीदारी भूमि व्यवस्था के धारा 143 मास्टर प्लान के अनुसार सीधे प्राधिकरण में लैंड यूज चेंज के लिए दिया जाएगा। यह कृषि भूमि होनी चाहिए।
16. उत्तराखण्ड श्रम सेवा नियमावली 2020 का प्रख्यापन किया गया।

NewsUncategorized

उत्तराखण्ड में वाटर मैनेजमेंट प्रोजेक्ट के 1203 करोड़ रूपए में बनेगें बैराज और झील

aqa
views
6127

देहरादून ब्यूरो। नीति आयोग द्वारा ‘‘जलसुरक्षा के लिए हिमालय के जलस्त्रोतों के पुनर्जीवन’’ पर प्रकाशित रिपोर्ट को ध्यान में रखते हुए यह प्रोजेक्ट तैयार किया जा गया है। प्रोजेक्ट की प्री-फिजीबिलीटी रिपोर्ट तैयार कर ली गई है। इसके तहत प्रस्तावित बांध, नहरों व तालाबों के निर्माण की डीपीआर बनाई जा रही है। इसकी अनुमानित लागत 1203 करोड़ रूपए है।

प्रस्तावित ‘उत्तराखण्ड वाटर मैनेजमेंट प्रोजेक्ट’’ के तहत जलस्त्रोतों के पुनर्जीवन, जलाशयों से गाद निकालने, तालाबों के निर्माण और नहरों के पुनरूद्धार पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड वाटर मैनेजमेंट प्रोजेक्ट पर गम्भीरता और समयबद्धता से काम करने के निर्देश देते हुए कहा कि इससे प्रदेश को प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष आर्थिक लाभ मिलने के साथ ही सकारात्मक सामाजिक प्रभाव भी होंगे। पर्यावरण और वन्य जीवन के संरक्षण में भी यह प्रोजेक्ट सहायक रहेगा।

जलस्त्रोतों की मैपिंग और स्प्रिंग शैड मैनेजमेंट
जलस्त्रोतों के पुनर्जीवन के तहत जलस्त्रोतों की मैपिंग और स्प्रिंग शैड मैनेजमेंट किया जाएगा। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाईड्रोलॉजी रूड़की द्वारा लघु चैक डैम बनाने, ट्रेंचेज को रिचार्ज करने और कैचमेंट एरिया में पौधारोपण का सुझाव दिया गया है। स्त्रोतों के पुनर्जीवन पर लगभग 90 करोड़ रूपए की लागत आएगी।
ग्रेविटी आधारित सिंचाई स्किमों का पुनरूद्धार
मौजूदा नहरों के पुनरूद्धार के तहत 382 लघु सिंचाई की नहरों/गूलों की मरम्मत के लिए 95 योजनाओं का काम लिया गया है। इन 95 ग्रेविटी स्किमों के पुनरूद्धार व नवीनीकरण पर 324 करोड़ रूपए की लागत अनुमानित है।
जलाशयों की डिसिल्टिंग
जलाशयों के डिसिल्टिंग के तहत हरिपुरा और बौर जलाशयों की डिसिल्टिंग कर इनकी सिंचन क्षमता में सुधार लाया जाएगा। इस पर 176 करोड़ रूपए की लागत अनुमानित है।

बैराज और झीलों का निर्माण
प्रोजेक्ट में कुल 10 बांध और झीलों का निर्माण प्रस्तावित किया गया है। इनमें पूर्वी नयार नदी पर खैरासैण झील, सतपुली के निकट झील, पश्चिमी नयार नदी पर पापडतोली, पैठाणी, स्यूंसी व मरखोला झील, साकमुंडा नदी पर झील, थल नदी पर झील, खो नदी पर दुगड्डा में बैराज और रामगंगा नदी पर गैरसैण झील शामिल हैं। इन 10 झीलों और बैराज के निर्माण पर 613 करोड़ रूपए की लागत अनुमानित है।

NewsUncategorized

बढ़ती चोरी की घटनाओं को लेकर हरिद्वार एसएसपी नाराज,थाना प्रभारी पर गिरी गाज

views
6285

हरिद्वार ब्यूरो। हरिद्वार के कनखल थाना क्षेत्र में चोरी की बढ़ती वारदात को लेकर हरिद्वार एसएसपी ने कार्यवाही करते हुए कनखल एसओ को लाइन हाजिर कर दिया हैं। दरअसल क्षेत्र में अमेजॉन कंपनी के ऑफिस में लाखों की चोरी से सनसनी फैल गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे पुलिस के आलाधिकारियों ने मौके का मुआयना किया।

क्षेत्र में बढ़ती चोरी की वारदातों से नाराज़ एसएसपी सेंथिल अबुदई ने कनखल थाना प्रभारी हरिओम राज चौहान को लाइन हाजिर कर दिया। हरिद्वार में चोरों के हौसले इस कदर बुलंद हैं की चोरों ने लक्सर रोड पर बने अमेजॉन कंपनी के ऑफिस के ताले तोड़कर लगभग तेहरा लाख कैश और कुछ मोबाइल फोन पर हाथ साफ कर दिया। चोरों की ये करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद ना हो इसलिए चोर सीसीटीवी का डीवीआर भी अपने साथ लेकर उड़े।

इतना ही नहीं चोरों ने आसपास की बिल्डिंगों में लगे सीसीटीवी कैमरे के तार भी काट डाले। सूचना पाकर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल की। कंपनी के कर्मचारियों के मुताबिक लगभग तेहरा लाख रुपए और कुछ सामान चोरी हुआ है।

सोमवार सुबह जब ऑफिस खोला गया तब घटना के बारे में पता चला। क्षेत्र में बढ़ती चोरी की घटनाओं से नाराज़ हरिद्वार के एसएसपी ने कनखल थाना प्रभारी हरिओम राज चौहान पर कार्रवाई करते हुए लाइन हाजिर कर दिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

NewsUncategorized

रुद्रपुर के कांग्रेसी पार्षद को इस बड़ी वजह के लिए किया गया था किड़नैप

views
6317

रुद्रपुर ब्यूरो। उत्तराखंड के रुद्रपुर से किडनैप किए गए कांग्रेसी पार्षद अमित मिश्रा मामले में गाजियाबाद पुलिस और उत्तराखंड पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन में 3 अपहरणकर्ता को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने इनके कब्जे से किडनैपिंग में इस्तेमाल हुई कार और बंदूक भी बरामद की है।

यह तस्वीर है कांग्रेसी पार्षद अमित मिश्रा की अस्पताल में बैठे हुए हैं। ये गाजियाबाद का सरकारी अस्पताल है और यह तस्वीर 18 जनवरी की है । जब अमित मिश्रा के किडनैपर उनको गाजियाबाद के राज नगर एक्सटेंशन इलाके में छोड़कर फरार हो गए थे ।

दरअसल उत्तराखंड के रुद्रपुर कांग्रेससे पार्षद अमित मिश्रा 17 जनवरी को किडनैप कर लिया गया था। अपहरणकर्ताओं ने परिजनों को फोन करके 40 लाख की फिरौती मांगी थी । परिजनों ने इसकी सूचना उत्तराखंड पुलिस को दी। उत्तराखंड पुलिस ने जांच की तो पता चला किडनैपर है ईस्टर्न पेरिफेरल वे पर है। उत्तराखंड पुलिस ने गाजियाबाद पुलिस से मदद मांगी।

गाजियाबाद पुलिस ने अपहरणकर्ताओं पर ऐसा शिकंजा कसा की किडनैपर को अमित मिश्रा को मजबूरी में राजनगर एक्सटेंशन छोड़कर फरार हो गए । अब पुलिस ने इसमें शामिल 3 बदमाश अबरार रिंकू और गौतम को हिरासत में ले लिया है।

हालांकि दो बदमाश हरेंद्र और संदीप अभी फरार है। यह सभी लोग दिल्ली और बागपत इलाके के रहने वाले हैं। पुलिस अभी फरार बाकी बदमाशों की तलाश कर रही है। हिरासत में लिए गए इन बदमाशो के कब्जे से अपहरण में इस्तेमाल हुई कार और एक डबल बैरल बंदूक बरामद की गई है।

NewsUncategorized

योगी के यूपी का क्राइम फ्री स्टेट की बानगी,चोर मस्त—पुलिस पस्त

views
6083

हरदोई ब्यूरो। योगी के यूपी में क्राइम पर किस तरह से लगाम लगी है इसकी एक बानगी हरदोई में उस समय दखेने को मिली जब बाइक शोरुम का ताला तोड़कर चोरों में लाखों की चपत लगा दी। ये पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गयी। हालांकि पुलिस घटना के बाद जल्द ही चोरों को गिरफ्तार करने का दावा कर रही हैं।

हरदोई में पुलिस भले ही कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने का दावा करे लेकिन उसके यह दावे हवा हवाई ही साबित हो रहे हैं चोरों ने बाइक शोरूम का ताला तोड़कर लाखों की नगदी पर हाथ साफ कर दिया हालांकि इस दौरान शोरूम के अंदर चोरी के लिए दाखिल हुए एक चोर की तस्वीरें सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

अब सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई तस्वीरों के सहारे पुलिस चोरों तक पहुंचने के प्रयास में जुटी हुई है हालांकि पुलिस का दावा है कि जल्द ही चोरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा और चोरी की इस घटना का खुलासा किया जाएगा

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में चोरी की यह वारदात कस्बा पिहानी की है जहां बिलाल मोटर्स का ताला तोड़कर चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया है दरअसल शटर के ताले तोड़कर एक चोर शोरूम के अंदर दाखिल हुआ तस्वीरों में आप साफ़ देख सकते हैं कि किस तरह से एक चोर अंदर दाखिल होता है जो हाथ में टॉर्च पकड़े हुए है

और फिर मेज की रैक और अलमारियां खोल रहा है शोरूम मालिक के मुताबिक चोर एक लाख 30 हजार नगद और एक चेक बुक अपने साथ ले गए हैं ऐसे में चोरी की घटना के सामने आने के बाद शोरूम मालिक की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ चोरी का मामला दर्ज कर लिया है और सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई चोरी की वारदात को लेकर तस्वीरों के सहारे पुलिस चोरों का पता लगाने में जुटी है पुलिस का दावा है कि जल्द ही चोरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा और इस मामले का पटाक्षेप किया जाएगा।

NewsUncategorized

गणतंत्र दिवस पर उत्तराखंड के इन पुलिसकर्मीयों को मिलेगा विशेष पुरुस्कार,देखें पूरी लिस्ट

views
6184

देहरादून ब्यूरो। गणतंत्र दिवस पर उत्तराखंड के 58 पुलिस कर्मीयों को सम्मानित किया जायेगा। जिसमें आठ पुलिसकर्मीयों को राज्यपाल उत्कृष्ठ सेवा पु​रुस्कार और उत्कृष्ठ सराहनीय सेवा सम्मान से नवाजा जायेगा।
इन्हें राज्यपाल बेबी रानी मौर्य सम्मान चिन्ह प्रदान करेंगी। बाकी पुलिसकर्मियों को पुलिस महानिदेशक अनिल कुमार रतूडी द्वारा सम्मानित किया जाएगा। पुलिस मुख्यालय ने बुधवार शाम सम्मानित होने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के नामों की घोषणा कर दी।

उत्कृष्ट और सराहनीय सेवा सम्मान चिन्ह पाने वाले पुलिसकर्मियाें को गणतंत्र दिवस पर पुलिस महानिदेशक अनिल कुमार रतूडी सम्मानित करेंगे। अराजपत्रित अधिकारी और कर्मचारी को सम्मान चिन्ह के साथ 5000 और 2000 रुपये का नकद पुरस्कार किया जाएगा।

इन्हें मिलेगा राज्यपाल उत्कृष्ट सेवा पदक
1- प्रकाश चंद्र देवली, पुलिस उपाधीक्षक, पीटीसी नरेंद्रनगर (संबद्ध कुंभ मेला)
2- विक्रम सिंह नेगी, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी हरिद्वार।
3- हरि सिंह, हेड कांस्टेबल, आईआरबी द्वितीय।
4- कंवर पाल, आरक्षी सतर्कता मुख्यालय देहरादून।
5- रविंद्र शाह, उपनिरीक्षक हरिद्वार।
6- अर्जुन कुमार, उपनिरीक्षक हरिद्वार।
7- अमित कुमार, आरक्षी, हरिद्वार।
8- प्रभाकर, आरक्षी, हरिद्वार।

सेवा के आधार पर उत्कृष्ट सेवा सम्मान चिन्ह
1- बिजेंद्र दत्त डोभाल, पुलिस उपाधीक्षक, हरिद्वार।
2- राकेश चंद्र देवली, पुलिस उपाधीक्षक यातायात, देहरादून।
3- दिग्विजय सिंह परिहार, पुलिस उपाधीक्षक, संचार मुख्यालय, देहरादून।
4- देवेंद्र सिंह नेगी, उप निरीक्षक, ऊधमसिंह नगर।
5- सेनपाल सिंह, प्लाटून कमांडर, 46वीं वाहिनी पीएसी।
6- पूरन चंद्र जोशी, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी, बागेश्वर।

विशिष्ट कार्य को उत्कृष्ट सेवा सम्मान चिन्ह
1- विद्या दत्त जोशी, उपनिरीक्षक, ऊधमसिंह नगर।
2- धर्मेंद्र सिंह रौतेला, थाना प्रभारी प्रेमनगर, देहरादून।

सेवा के आधार पर सराहनीय सेवा सम्मान चिन्ह
1 गणेश लाल, पुलिस उपाधीक्षक, रुद्रप्रयाग।
2 राम सिंह रावत, दलनायक, 40वीं वाहिनी पीएसी।
3 अशोक कुमार सिंह, प्रतिसार निरीक्षक, अल्मोड़ा।
4 महेश पाल सिंह, निरीक्षक, एसटीएफ ।
5 कुंदन सिंह राणा, निरीक्षक एटीसी हरिद्वार।
6 राममूर्ति सिंह रावत, उप निरीक्षक अभिसूचना, मुख्यमंत्री सुरक्षा, देहरादून।
7 पीताम्बर भट्ट, उप निरीक्षक, चम्पावत।
8 रमेश चंद्र तिवारी, उप निरीक्षक, ऊधमसिंह नगर।
9 रमेश चंद्र देवरानी, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी, ऊधमसिंह नगर।
10 रूपलाल, हेड कांस्टेबल, सीबीसीआईडी, देहरादून।
11 कुंदन सिंह, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी, हरिद्वार।
12 गोवर्धन प्रसाद, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी, पौड़ी गढ़वाल।
13 जेई राम, हेड कांस्टेबल विशेष श्रेणी, चालक 46वीं वाहिनी पीएसी।
14 रमेश चंद्र, हेड कांस्टेबल आईआरबी प्रथम रामनगर।
15 भवान सिंह, हेड कांस्टेबल, 31वीं वाहिनी पीएसी रुद्रपुर।
16 पूरन राम, नायक, 31वीं वाहिनी पीएसी रुद्रपुर।

विशिष्ट कार्य को सराहनीय सेवा सम्मान चिन्ह
1.दिलवर सिंह नेगी, एसओ नेहरू कालोनी, देहरादून।
2- संजय मिश्रा, कैंट कोतवाली प्रभारी देहरादून।
3- ललित कुमार, आरक्षी, देहरादून।
4- दीप प्रकाश, आरक्षी देहरादून।
5- राजेश सिंह कुंवर, आरक्षी, देहरादून।
6- देवेंद्र सिंह, आरक्षी देहरादून।
7- दिनेश सिंह, आरक्षी, देहरादून।
8- अशोक राठौर, एसओ राजपुर, देहरादून।
9- अरशद, आरक्षी, देहरादून।
10- पंकज, आरक्षी, देहरादून।
11- केदार सिंह चौहान, उप निरीक्षक, उत्तरकाशी।
12- ऋ तुराज, उप निरीक्षक उत्तरकाशी।
13- चंदन सिंह, आरक्षी, उत्तरकाशी।
14- उत्तम सिंह, आरक्षी, उत्तरकाशी।
15- रमेश राणा, आरक्षी, उत्तरकाशी।
16- अमर चंद्र शर्मा, निरीक्षक, एसटीएफ ।
17- सुनील कुमार, हेड कांस्टेबल एसटीएफ ।
18- मनोज कुुमार, आरक्षी, एसटीएफ ।
19- सुरेंद्र कुमार, आरक्षी चालक, एसटीएफ ।
20- मनोज रावत, उप निरीक्षक एसडीआरएफ ।
21- सुशील कुमार, आरक्षी, एसडीआरएफ ।
22- सुरेश मलासी, आरक्षी, एसडीआरएफ ।
23- कुंदन तोमर, आरक्षीए एसडीआरएफ ।
24- राजेंद्र नाथ, आरक्षी, एसडीआरएफ
25- गोपाल दत्त जोशी, निरीक्षक अभिसूचना मुख्यालय।
26- जीवन सिंह रावत, उप निरीक्षक, सीसीटीएनएस पुलिस मुख्यालय।

NewsUncategorized

नगरपालिका अध्यक्ष के खिलाफ बंधक बनाकर मारपीट का आरोप,मुकदमा दर्ज

views
6171

गदरपुर ब्यूरो। गदरपुर नगरपालिका अध्यक्ष पर एक युवक को बंधक बनाकर मारपीट करने के आरोप में पालिका अध्यक्ष गुलाम गौस सहित चार अन्य सहयोगियों पर मुकदमा हुआ दर्ज। मुकदमा दर्ज होने से नाराज पालिका अध्यक्ष ने समर्थकों के साथ थाने में जमकर किया हंगामा।

गदरपुर पालिका अध्यक्ष के खिलाफ ग्राम मजरा शीला निवासी मोहम्मद हारिस ने गदरपुर थाने में तहरीर दी थी कि 17 जनवरी को शाम मोमिन नामक का युवक चार पांच लोगों के साथ उसके घर आया और उसे कार में बैठा कर ले गया और उसका मोबाइल छीन लिया।

उसे जबरदस्ती पालिका कार्यालय में ईओ के कक्ष में ले जाया गया। जहां पर मौजूद पालिका अध्यक्ष गुलाम गौस उनके भाई तारीख उल्ला खान – रमेश मदान और कुछ अन्य लोगों ने उसके साथ मारपीट की और गाली गलौज की और उसे काफी देर तक कमरे में बंधक बनाया गया।

वहीं पर उसके मोबाइल से भी काफी छेड़छाड़ की गई। मोहम्मद हारिस की तहरीर पर पुलिस ने पालिका अध्यक्ष और उसके साथ चार अन्य लोगों पर 323- 342- 504 और 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया।

वही गदरपुर नगर पालिका चेयरमैन गुलाम गौस ने भी मोहम्मद हारिस पर उनके खिलाफ सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट करने की तहरीर गदरपुर थाने में दी थी। मोहम्मद हारिस की तहरीर पर मुकदमा दर्ज होने और चेयरमैन की तहरीर पर कोई कार्यवाही ना होने से नाराज चेयरमैन समर्थकों ने कल रात गदरपुर थाने का घेराव कर जमकर हंगामा काटा और मोहम्मद हरीश के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

वहीं इस पूरे मामले में सीओ दीपशिखा ने बताया की गदरपुर नगर पालिका अध्यक्ष के खिलाफ एक तहरीर आई थी जिस पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है साथ ही कल रात नगर पालिका चेयरमैन मोहम्मद गौस द्वारा अपने समर्थकों के साथ कोतवाली का घेराव किया गया था और अपनी तहरीर पर भी कार्रवाई करने की मांग की गई थी उनकी तहरीर पर जांच की जा रही है जांच उपरांत नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

NewsUncategorized

देखिए उत्तराखंड का यह इलाका दिख रहा शाहीन बाग के रास्ते पर

views
5981

रुड़की ब्यूरो। उत्तराखंड का मंगलौंर कस्बा शाहीन बाग़ में तब्दील होता दिखाई दिया है, जहाँ सैकड़ों महिलाएं अपने बच्चों के साथ सीएए कानून के खिलाफ एक मदरसे में इकठ्ठा हुई और इस कानून के खिलाफ जमकर हुंकार भरी। दरअसल एनआरसी और सीएए कानून के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।

तो कहीं इन कानून का समर्थन भी किया जा रहा है। खासकर मुस्लिम समाज व दलित समाज के लोग लगातार कानून में हुए संशोधन के खिलाफ जोरदार विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली में शाहीन बाग में सैकड़ों महिलाएं एक माह से अधिक समय से धरने पर बैठी हुई हैं तो उसी की तर्ज पर उत्तराखंड प्रदेश में भी मुस्लिम समाज की महिलाएं घरों से बाहर निकलकर इस संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने के लिए उतर गई हैं।

बता दें कि मंगलौर क्षेत्र में मुस्लिम समाज की महिलाएं लगातार एनआरसी और सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने के लिए सड़कों पर उतर गई है। पिछले दिनों मंगलौर कस्बे में स्थित मदरसे में हजारों की तादाद में पहुंची

मुस्लिम समाज की महिलाओं ने जोरदार विरोध प्रदर्शन किया था जिसके चलते मंगलौर क्षेत्र के ही टांडा भनेड़ा गांव में भी सैकड़ों की संख्या में जमा हुई महिलाओं ने जोरदार इसका विरोध प्रदर्शन किया।

महिलाओं ने साफ तौर पर कहा कि शाहीन बाग में बैठी महिलाएं अकेली नहीं है जब तक सरकार संशोधन कानून को वापस नहीं लेती तब तक सभी मुस्लिम समाज की महिलाएं भी धरना प्रदर्शन करेगी।

NewsUncategorized

हरिद्वार की ये बच्ची बॉलीवुड में धूम मचाने को तैयार,मॉडलिंग कॉम्पिटिशन जीतने के बाद आ रहे ऑफर

views
5760

हरिद्वार ब्यूरो। फ़िल्म दंगल का सुपरहिट डायलॉग “”मारी छोरी किसी छोरे से कम है के,, इसी डायलॉग को सार्थक कर दिखाया है रुड़की की 9 वर्षीय एक बेटी ने। जिसने देशभर से आए करीब डेढ़ लाख प्रतिभागियों को पछाड़ते हुए मॉडलिंग कॉम्पिटिशन की सी कैटेगिरी में द्वित्तीय स्थान हासिल किया है।

विजेता घोषित होने के बाद इस छात्रा को बॉलीवुड से ऑफर आने शुरू हो गए है इसके साथ ही कई मैग्जीन से भी ऑफर आचुके है। आपको बता दे कि रुड़की इंडियाज टैलंट फाइट की मॉडलिंग कैटेगरी में रुड़की की एक और बच्ची ने शहर का नाम रोशन किया है। रुड़की रामनगर निवासी कक्षा चार में पढ़ने वाली नायशा खन्ना ने इंटरनेशनल मॉडलिंग कॉम्पिटिशन में सीनियर वर्ग में द्वितीय स्थान प्राप्त किया है।

नायशा खन्ना एसपी ग्लोबल स्कूल में कक्षा चार की छात्रा है। उनके माता पिता डॉ. नवीन खन्ना और डॉ.शिल्पी खन्ना ने बताया कि नायशा बचपन से ही मॉडलिंग और एक्टिंग का शौक रखती है और बॉलीवुड की दो फिल्मों का ऑडिशन भी नायशा ने दिया है।

जिसमें उनका चयन हुआ है और जल्द ही वह फिल्मों में नजर आएंगी। उनके माता पिता ने बताया कि वह बच्ची की उपलब्धि से खुश हैं। नायशा ने अपनी उपलब्धि का श्रेय माता पिता और गुरु शिखर सैनी को दिया। उन्होंने बताया कि वह मॉडलिंग और एक्टिंग की दुनिया मे अपना नाम कमाना चाहती हैं और अपने शहर और प्रदेश का नाम रोशन करेंगी।

NewsUncategorized

ये है क्राइम फ्री उत्तर प्रदेश-युवती की हत्या के बाद डाला तेजाब तो कहीं पैसा मांगने पर ही कर दी हत्या

views
6416

लखनऊ | उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में दिल दहलाने वाली घटना सामने आई हैं। जिले के मुर्तिहा कोतवाली इलाके में युवती की हत्या के बाद हत्यारों ने उसकी पहचान छिपाने के लिए उसे तेजाब से नहलाया हैं। युवती से सामुहिक दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या की आशंका जताई जा रही हैं। मुर्तिहा कोतवाली इलाके के उर्रा इलाके से सटा नौबना गांव कतर्नियाघाट के जंगल से सटा हुआ है।

शनिवार को जंगल किनारे मवेशियों को चराने गए चरवाहों ने झाड़ियों में युवती का शव नग्नावस्था में पड़ा देखा । घटना की जानकारी मिलते ही इलाके में सनसनी फैल गई। सैकड़ों ग्रामीण मौके पर पहुंचे, युवती की शिनाख्त नहीं हो पाई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के भेज दिया है।अपर पुलिस अधीक्षक रविन्द्र कुमार सिंह ने बताया है कि बरामद शव पर कुछ जले के निशान है लेकिन शव को पहचाना जा सकता है फिर भी अभी यह नहीं पता चल पाया है इस लड़की का क्या नाम है और कहाँ की रहने वाली है।

मीर्जापुर में पैसें मांगने पर कर दी हत्या

मीर्जापुर में भदोही के गल्ला व्यापारी का शव मिलने से सनसनी फैल गयी। दुकानदार से तगादा लेने के लिए निकले थे। जिसकी हत्या कर शव को कुए में फेंका गया था।सीसीटीवी के माध्यम से परिजन पहुँचें हत्यारों तक।जांच में जुटी पुलिस।भदोही के औराई थाने में दर्ज हुआ हत्या का मुकदमा।

मीरजापुर के चील्ह थाना क्षेत्र में चिन्दलिक गांव में भदोही के व्यापारी का शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गयी।घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुँची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना की जानकारी होने पर परिजन भी पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंच गये।

पुलिस के अनुसार भदोही के कंशापुर महराजगंज के रहने वाले व्यापारी शिव कुमार गुप्ता धान खरीदने और बेचने का काम करते थे।घर से वह पैसे के वसूली के लिए निकले थे।मगर वापस घर नही पहुँचें। हत्यारों ने भदोही में उनकी हत्या कर शव को छिपाने के लिए मीरजापुर के चिन्दलिक में कुंए में फेंक दिया।जिसका पता चलने पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस अधीक्षक का कहना है कि इस मामले में हत्या का मुकदमा भदोही जनपद के औराई थाने में दर्ज है।वही परिजनों का कहना है कि जब वह सीसीटीवी देखे तब उन्हें पता चला।जिसके साथ थे उनसे पूछा तो वह बोला पैसा दे दिए है। थाने पर पुलिस के पास ले गये तब उसने हत्या करना कबूल किया।पैसे के लिये हत्या की गयी है।

English EN Hindi HI