News

मनचलों के लिए हरिद्वार पुलिस का खास प्लान,आसान नहीं होगा छेड़खानी

हरिद्वार हरिद्वार में अब मनचलों की खैर नहीं हरिद्वार पुलिस ने सड़कछाप मजनूओं के लिए नया प्लान बनाया हैं। हरिद्वार के रुड़की में इस तरह घटनाएं आम है कि स्कूल और कॉलेज के बाहर मनचले लड़कीयों को परेशान करते हैं। पुलिस को इस तरह की शिकायत मिलती रहती हैं। शायद यही वजह है कि पुलिस ने इसके लिए एक खास प्लान बनाया हैं।

रुड़की पुलिस ने अब ऐसे मनचलों को चिन्हित करना शुरू कर दिया है जो स्कूल कॉलेजों के बाहर छत्राओ पर फंगतिया कसते है और छेड़छाड़ करते है। इस काम पर सीपीयू और स्थानीय पुलिस को सख़्त निर्देश दिए गए है कि स्कूल व कॉलेजों के खुलने और बन्द होने के समय मनचलों पर पैनी नजर रखी जाए, साथ ही अगर कोई ऐसा करता पाया जाए तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जाए।

आपको बता दे रुड़की को शिक्षानगरी के नाम से जाना जाता है, यहां अनेकों कॉलेज और स्कूल ऐसे है जिनमे छात्राएं शिक्षाग्रहन करती है। अक्सर स्कूल प्रबंधन द्वारा पुलिस को मनचलों की शिकायती मिलती रहती है। कई बार तो मनचले शिक्षिकाओं तक को नही बख़्ते। अब इस गम्भीर समस्या को देखते हुए रुड़की पुलिस ने ऐसे मनचलों को सुधारने के लिए अभियान चलाया है।

रुड़की एसपी देहात स्वपन किशोर ने बताया कि रुड़की क्षेत्रीय पुलिस और सीपीयू (सिटी पेट्रोलियम यूनिट) को सख़्त निर्देश दिए गए है कि वह स्कूल/कॉलेज खुलने और बन्द होने के समय गस्त को अंजाम दे, और ऐसे मनचलों को चिन्हित करें जो स्कूल कॉलेजों के बाहर छत्राओ से छेड़छाड़ करते है।

वही स्कूल प्रबंधनों को भी स्कूल/कॉलेजों में सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए गए है ताकि मनचलों की हरकतें कैद हो सके और उन्हें चिन्हित कर कार्यवाही अमल में लाई जा सके। उन्होंने बताया छात्राओं के मन मे किसी भी तरह का भय ना हो और वह खुलकर आज़ादी के साथ एक बेहतर वातावरण में जीवन यापन करें इसके लिए उत्तराखंड पुलिस ततपर है।

Mahaveer negi
written by: Mahaveer negi
English EN Hindi HI